सरकारी योजनाएं

Rashan Card : मुफ्त राशन योजना में आया नया अपडेट! डीलर करेंगे अब ये बड़ा काम

×

Rashan Card : मुफ्त राशन योजना में आया नया अपडेट! डीलर करेंगे अब ये बड़ा काम

Share this article

Muft Rashan Yojana : बिहार के अरवल जिले में जनवितरण प्रणाली की 337 दुकानों से एक लाख दो हजार 667 राशन कार्डधारी उपभोक्ताओं को राशन मिलता है। खाद्य आपूर्ति विभाग ने अब सभी राशन कार्डधारियों के लिए ई-केवाईसी को अनिवार्य कर दिया है। आइए जानते हैं इस नई व्यवस्था के बारे में विस्तार से।

खाद्य आपूर्ति विभाग ने सभी राशन कार्डधारियों के लिए ई-केवाईसी को अनिवार्य कर दिया है। इसका उद्देश्य सही उपभोक्ताओं को योजना का लाभ देना और फर्जीवाड़े को रोकना है।

ई-केवाईसी के लिए आवश्यक दस्तावेज़

  • आधार कार्ड
  • राशन कार्ड नंबर
  • फिंगर प्रिंट मिलान

डीलरों को पॉस मशीन में दिए गए ऑप्शन का उपयोग कर ई-केवाईसी करनी होगी। उपभोक्ताओं को राशन के लिए आने पर डीलर उनकी ई-केवाईसी करेंगे। यदि उपभोक्ता बीमार, वृद्ध, गर्भवती या किसी अन्य कारण से दुकान तक नहीं पहुंच सकते हैं, तो डीलर उनके घर जाकर ई-केवाईसी करेंगे।

ई-केवाईसी के माध्यम से यह सुनिश्चित किया जाएगा कि जिनका नाम राशन कार्ड पर अंकित है, वे सही मायने में उस परिवार का हिस्सा हैं और योजना का सही लाभ प्राप्त कर रहे हैं।

फर्जी राशन कार्डधारियों की पहचान कर उनके नाम काटे जा सकते हैं, जिससे असली लाभार्थियों को ही योजना का लाभ मिलेगा।

बालमुकुंद शर्मा, सहायक जिला आपूर्ति पदाधिकारी ने बताया, “जन वितरण प्रणाली के सभी उपभोक्ताओं की ई-केवाईसी की जा रही है। इसके लिए डीलरों को जिम्मेदारी दी गई है। डीलर के पास उपभोक्ता राशन के लिए पहुंचते हैं तो वहीं पर डीलर ई-केवाईसी करेंगे। अगर सभी उपभोक्ता वहां नहीं पहुंच पाते हैं तो डीलर उनके घर जाकर पॉस मशीन से ई-केवाईसी करेंगे।”

ई-केवाईसी की प्रक्रिया: एक नज़र में

प्रक्रियाविवरण
आवश्यक दस्तावेज़आधार कार्ड, राशन कार्ड नंबर, फिंगर प्रिंट
ई-केवाईसी कैसे करेंपॉस मशीन के माध्यम से डीलर द्वारा ई-केवाईसी
फायदेमंद क्यों?सही उपभोक्ता को लाभ, फर्जीवाड़े पर लगाम
घर जाकर ई-केवाईसीबीमार, वृद्ध, गर्भवती या असमर्थ उपभोक्ताओं के लिए डीलर

अरवल जिले में जनवितरण प्रणाली के तहत राशन प्राप्त करने वाले सभी उपभोक्ताओं को ई-केवाईसी करवाना अनिवार्य है। इससे सही लाभार्थियों को योजना का लाभ मिलेगा और फर्जीवाड़े पर रोक लगेगी। उपभोक्ताओं को अपने दस्तावेज़ तैयार रखकर डीलरों से संपर्क करना चाहिए ताकि वे समय पर ई-केवाईसी करवा सकें और राशन का लाभ उठा सकें।

जल्दी करें और इस नई व्यवस्था का लाभ उठाएं ताकि आपकी आवश्यकताएं समय पर पूरी हो सकें।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now