सरकारी योजनाएं

Janani Suraksha Yojana (JSY) 2024| इन महिलाओं के खाते में सीधे 6000 रुपये जमा करती है सरकार, जाने कैसे भरें फार्म

×

Janani Suraksha Yojana (JSY) 2024| इन महिलाओं के खाते में सीधे 6000 रुपये जमा करती है सरकार, जाने कैसे भरें फार्म

Share this article

क्या आप गर्भवती हैं और इस खूबसूरत सफर के दौरान अपने स्वास्थ्य और आने वाले बच्चे की सुरक्षा को लेकर चिंतित हैं? तो फिर आपके लिए भारत सरकार की एक बेहतरीन पहल है – जननी सुरक्षा योजना (जेएसवाई)। यह योजना विशेष रूप से गरीब और वंचित गर्भवती महिलाओं को सशक्त बनाने और मातृ एवं शिशु मृत्यु दर को कम करने के लिए बनाई गई है. आइए, इस लेख में हम जननी सुरक्षा योजना के बारे में विस्तार से जानते हैं.

जननी सुरक्षा योजना (JSY) क्या है?

जननी सुरक्षा योजना (जेएसवाई) राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन (एनएचएम) के अंतर्गत लागू किया गया एक महत्वपूर्ण कार्यक्रम है। इसका उद्देश्य आर्थिक रूप से कमजोर गर्भवती महिलाओं को प्रोत्साहित करना है ताकि वे सरकारी अस्पतालों या मान्यता प्राप्त स्वास्थ्य संस्थानों में सुरक्षित प्रसव का विकल्प चुनें। इस योजना के तहत, सरकार इन महिलाओं को वित्तीय सहायता प्रदान करती है, जिससे उन्हें संस्थागत प्रसव के खर्चों को पूरा करने में मदद मिलती है।

Janani Suraksha Yojana (JSY) 2024 Overview

पहलूविवरण
योजना का नामजननी सुरक्षा योजना (जेएसवाई)
कार्यान्वयन करने वाली संस्थाभारत सरकार, स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय
लक्ष्यमातृ और शिशु मृत्यु दर में कमी लाना
लाभार्थीगर्भवती महिलाएं, खासकर गरीब और ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाली महिलाएं
पात्रताभारत की नागरिक, सरकारी स्वास्थ्य संस्थान या आशा कार्यकर्ता द्वारा संचालित स्वास्थ्य केंद्र में प्रसव कराने की इच्छा रखने वाली, आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग से ताल्लुक रखने वाली
लाभ
वर्गग्रामीण क्षेत्रकुलशहरी इलाकाकुल
माँ का पैकेज140060020001000
आशा का पैकेज600300300400

जननी सुरक्षा योजना के उद्देश्य:

जननी सुरक्षा योजना (जेएसवाई) भारत सरकार द्वारा शुरू की गई एक महत्वपूर्ण योजना है जिसका मुख्य उद्देश्य देश में मातृ मृत्यु दर (एमएमआर) और नवजात शिशु मृत्यु दर (आईएमआर) को कम करना है। यह योजना गर्भवती महिलाओं, खासकर गरीब और कमजोर वर्ग की महिलाओं को सुरक्षित प्रसव और उचित स्वास्थ्य सुविधाएं प्रदान कर मातृ एवं शिशु स्वास्थ्य में सुधार लाने का प्रयास करती है।

जननी सुरक्षा योजना (JSY) के लाभ

गर्भवती माताओं के लिए जननी सुरक्षा योजना कई तरह के लाभ प्रदान करती है, जिनमें से कुछ मुख्य लाभ इस प्रकार हैं:

  1. वित्तीय सहायता: जेएसवाई के तहत, सरकार गर्भवती महिलाओं को नकद प्रोत्साहन राशि प्रदान करती है। यह राशि प्रसव के स्थान के आधार पर भिन्न हो सकती है। उदाहरण के लिए, ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाली महिलाओं को शहरी क्षेत्रों में रहने वाली महिलाओं की तुलना में अधिक राशि प्राप्त होती है। वर्तमान में, यह राशि ग्रामीण क्षेत्रों में ₹1400 और शहरी क्षेत्रों में ₹1000 है।
  2. निःशुल्क प्रसवपूर्व और प्रसवोत्तर देखभाल: इस योजना के अंतर्गत, सरकारी अस्पतालों और मान्यता प्राप्त स्वास्थ्य संस्थानों में गर्भवती महिलाओं को नियमित जांच, दवाइयां और प्रसवपूर्व परामर्श निःशुल्क प्रदान किए जाते हैं। प्रसव के बाद भी माता और नवजात शिशु की देखभाल की जाती है।
  3. संस्थागत प्रसव को बढ़ावा: जेएसवाई का मुख्य उद्देश्य ही यही है कि ज्यादा से ज्यादा गर्भवती महिलाएं अस्पतालों में प्रसव कराएं। अस्पताल में प्रसव कराने से न केवल कुशल डॉक्टरों और नर्सों की निगरानी में प्रसव होता है, बल्कि किसी भी तरह की जटिलता के लिए भी चिकित्सीय सहायता तुरंत उपलब्ध रहती है। इससे मातृ एवं शिशु मृत्यु दर को कम करने में मदद मिलती है।
  4. आशा वर्करों को प्रोत्साहन राशि: जेएसवाई योजना के तहत आशा वर्करों को भी प्रोत्साहित किया जाता है। आशा वर्करें गर्भवती महिलाओं से जुड़कर उनका मार्गदर्शन करती हैं, उन्हें सरकारी अस्पतालों में पंजीकरण कराने में मदद करती हैं और प्रसव के लिए अस्पताल ले जाने में भी सहायता करती हैं। इन कार्यों के लिए उन्हें प्रोत्साहन राशि प्रदान की जाती है।

जेएसवाई योजना के लिए पात्रता

सुभद्रा योजना का लाभ सभी महिलाओं को नहीं मिलेगा। अगर आप इस योजना का लाभ उठाने की सोच रहे हैं, तो इसके लिए कुछ आवश्यक पात्रताएं निर्धारित की गई हैं। आइए, जानते हैं इन पात्रताओं के बारे में विस्तार से:

  1. आप भारत की नागरिक होनी चाहिए और आपके पास इसका प्रमाण होना चाहिए, जैसे कि आधार कार्ड या मतदाता पहचान पत्र।
  2. आप गर्भवती होनी चाहिए और आपके पास डॉक्टर द्वारा जारी प्रमाण पत्र होना चाहिए जो आपकी गर्भावस्था की पुष्टि करता है।
  3. आप सरकारी स्वास्थ्य सुविधा या आशा कार्यकर्ता द्वारा संचालित स्वास्थ्य केंद्र में प्रसव कराने के लिए तैयार होनी चाहिए।
  4. योजना का प्राथमिक लक्ष्य गरीब और कम आय वाले परिवारों की गर्भवती महिलाओं को सहायता प्रदान करना है।
  5. हालांकि, योजना के तहत लाभ प्राप्त करने के लिए आय की कोई निश्चित सीमा निर्धारित नहीं की गई है।
  6. राज्य सरकारें अपनी विवेकानुसार पात्रता सीमा निर्धारित कर सकती हैं।

जननी सुरक्षा योजना के लिए जरूरी दस्तावेज

अगर आप ऊपर दर्शाई गई पात्रता को पूरा करते है और Janani Suraksha Yojana 2024 का लाभ लेना चाहते है तो इसके लिए आपको पहले आवेदन करना होगा जिसके लिए कुछ जरूरी दस्तावेजों की जरूरत पड़ती है जो इस प्रकार हैः

1. पहचान पत्र:

  • आधार कार्ड
  • मतदाता पहचान पत्र
  • ड्राइविंग लाइसेंस
  • पासपोर्ट
  • अन्य सरकार द्वारा जारी पहचान पत्र

2. पते का प्रमाण:

  • बिजली का बिल
  • राशन कार्ड
  • बैंक पासबुक
  • आधार कार्ड (पते के साथ)
  • टेलीफोन बिल
  • अन्य सरकार द्वारा जारी पते का प्रमाण

3. गर्भावस्था का प्रमाण:

  • पंजीकृत चिकित्सक द्वारा जारी गर्भावस्था का प्रमाण पत्र
  • अल्ट्रासाउंड रिपोर्ट

4. अन्य दस्तावेज:

  • बैंक खाते का विवरण (यदि उपलब्ध हो)
  • जन्म प्रमाण पत्र (यदि पहला बच्चा है)
  • जाति प्रमाण पत्र (यदि आवश्यक हो)
  • स्थानीय निवास प्रमाण पत्र (कुछ राज्यों में आवश्यक)

जननी सुरक्षा योजना के लिए आवेदन

एक बार जब आप सुनिश्चित हो जाएं कि आप पात्र हैं, तो आपको आवश्यक दस्तावेज जमा करने होंगे।

  1. अपने सभी आवश्यक दस्तावेजों के साथ, अपने नजदीकी सरकारी स्वास्थ्य संस्थान या प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र (PHC) पर जाएं।
  2. स्वास्थ्य केंद्र पर, योजना के लिए पंजीकरण करें और आपको दिया गया आवेदन पत्र भरें।
  3. व्यक्तिगत जानकारी: नाम, पता, संपर्क जानकारी, आदि
  4. गर्भावस्था विवरण: गर्भधारण की तारीख, प्रसव की अनुमानित तारीख, आदि
  5. आर्थिक जानकारी: आय विवरण, बैंक खाता जानकारी, आदि
  6. पूरी तरह से भरा हुआ आवेदन पत्र और सभी आवश्यक दस्तावेज जमा करें।
  7. अधिकारियों द्वारा आपके आवेदन की जांच की जाएगी और यदि आप पात्र हैं तो आपको योजना के तहत लाभ प्राप्त होगा।

जननी सुरक्षा योजना (जेएसवाई) प्रश्न (FAQs)

1. जननी सुरक्षा योजना क्या है?

जननी सुरक्षा योजना (जेएसवाई) एक सुरक्षित मातृत्व हस्तक्षेप (safe motherhood intervention) है जो गरीब गर्भवती महिलाओं को पंजीकृत स्वास्थ्य संस्थाओं में प्रसव के लिए प्रोत्साहित करता है।

2. जननी सुरक्षा योजना के उद्देश्य क्या हैं?

जननी सुरक्षा योजना का उद्देश्य गरीब गर्भवती महिलाओं के बीच संस्थागत जन्म को बढ़ावा देकर मातृ और नवजात मृत्यु को कम करना है।

3. जननी सुरक्षा योजना के लिए पात्रता क्या है?

जननी सुरक्षा योजना के लिए पात्रता को दो वर्गों में विभाजित किया गया है: लो परफॉर्मिंग स्टेट (LPS) और हाई परफॉर्मिंग स्टेट (HPS). पात्र गर्भवती महिलाएं गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करती हैं और संस्थागत प्रसव के लिए प्रोत्साहित होती हैं।

4. जननी सुरक्षा योजना के तहत क्या लाभ हैं?

जननी सुरक्षा योजना के तहत गर्भवती महिलाओं को मातृत्व लाभ पैकेज (माँ का पैकेज) और आशा स्वयंसेवकों को आशा पैकेज प्रदान किया जाता है।

5. जननी सुरक्षा योजना के तहत क्या पैकेज हैं?

जननी सुरक्षा योजना के तहत माँ का पैकेज 1400 रुपये और आशा पैकेज 600 रुपये हैं, जिसमें संस्थागत प्रसव की सुविधा के लिए 300 रुपये शामिल हैं।

6. जननी सुरक्षा योजना के तहत क्या सुविधाएं हैं?

जननी सुरक्षा योजना के तहत गर्भवती महिलाओं की सारी जांच और बच्चे की डिलीवरी नि:शुल्क होती है।

7. जननी सुरक्षा योजना के तहत आवेदन कैसे करें?

जननी सुरक्षा योजना के तहत आवेदन के लिए गर्भवती महिलाएं ऑफलाइन आवेदन फॉर्म जमा कर सकती हैं और इसके लिए पात्र होने की पुष्टि की जाती है।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now