सरकारी योजनाएं

Mukhyamantri Udyam Kranti Yojana 2024 Details| बिना गांरटी और ब्याज के पाएं 25 लाख का लोन

×

Mukhyamantri Udyam Kranti Yojana 2024 Details| बिना गांरटी और ब्याज के पाएं 25 लाख का लोन

Share this article

Mukhyamantri Udyam Kranti Yojana 2024: मुख्यमंत्री उद्यम क्रांति योजना मध्य प्रदेश सरकार द्वारा राज्य के युवाओं को स्वरोजगार स्थापित करने में सहायता करने के लिए शुरू की गई एक योजना है। इस योजना के तहत, शिक्षित युवाओं को बैंकों के माध्यम से बिना गारंटी के ऋण उपलब्ध कराया जाता है। ऋण पर 3% प्रति वर्ष की दर से ब्याज अनुदान भी प्रदान किया जाता है। योजना का मुख्य उद्देश्य प्रदेश में सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यमों (MSME) की स्थापना को बढ़ावा देना और युवाओं के बीच रोजगार के अवसर पैदा करना है।

मुख्यमंत्री उद्यम क्रांति योजना 2024 का सारांश

विवरणजानकारी
योजना का नाममुख्यमंत्री उद्यम क्रांति योजना 2024
लांच कियामध्य प्रदेश सरकार द्वारा
लाभार्थीमध्य प्रदेश के नागरिक
उद्देश्यस्वरोजगार के लिए प्रदेश के नागरिकों को प्रोत्साहित करना
आधिकारिक वेबसाइटजल्द लॉन्च की जाएगी
वर्ष2024
आवेदन का प्रकारऑनलाइन/ऑफलाइन
पात्रताबेरोजगार नागरिक
लाभ1 लाख रुपए से 25 लाख रुपए तक का लोन
उद्देश्यस्वरोजगार के लिए प्रदेश के नागरिकों को प्रोत्साहित करना

 

मुख्यमंत्री उद्यम क्रांति योजना का उदेश्य

मुख्यमंत्री उद्यम क्रांति योजना को कई महत्वपूर्ण उदेश्यों को ध्यान में रखकर शुरू किया गया है। योजना का उद्देश्य शिक्षित युवाओं को स्वयं का उद्यम/ स्वरोजगार स्थापित करने के लिए बैंको के माध्यम से कोलेटरल फ्री ऋण उपलब्ध कराना है तथा ब्या‍ज अनुदान सहायता के माध्यम से ऋण लागत (Cost of Credit) कम कराकर परियोजना की व्यवहार्यता (Project Viability) को बढ़ाना है ताकि प्रदेश में अधिक से अधिक सूक्ष्म उद्यम स्थापित हो सकें, युवाओं की बेरोजगारी दूर हो सके साथ ही प्रदेश के युवा नौकरी के विकल्प के रूप में स्वरोजगार को अपनाने के लिए प्रोत्साहित हो सकें।

मुख्यमंत्री उद्यम क्रांति योजना का लाभ

मुख्यमंत्री उद्यम क्रांति योजना उन युवाओं के लिए वरदान है जो अपना खुद का कारोबार शुरू करना चाहते है। इस योजना से ऐसे युवाओं को बहुत लाभ मिलते है जो इस प्रकार हैः

  • रोजगार सृजन: इस योजना का मुख्य लाभ यह है कि यह बड़ी संख्या में रोजगार के अवसर पैदा करती है। योजना के तहत, युवाओं को अपना खुद का व्यवसाय शुरू करने के लिए ऋण प्रदान किया जाता है, जिससे उन्हें और उनके कर्मचारियों को रोजगार मिलता है।
  • आर्थिक विकास: योजना का दूसरा लाभ यह है कि यह राज्य के आर्थिक विकास को बढ़ावा देती है। जब युवा अपना खुद का व्यवसाय शुरू करते हैं, तो वे अर्थव्यवस्था में योगदान करते हैं। इससे कर राजस्व में वृद्धि होती है और राज्य के समग्र विकास में मदद मिलती है।
  • स्वरोजगार: योजना युवाओं को स्वरोजगार बनने और अपने खुद के मालिक बनने का अवसर प्रदान करती है। यह उन्हें अपनी प्रतिभा और कौशल का उपयोग करने और अपनी शर्तों पर काम करने की स्वतंत्रता देता है।
  • उद्यमिता को बढ़ावा: योजना उद्यमिता को बढ़ावा देती है और युवाओं को जोखिम लेने और नवाचार करने के लिए प्रोत्साहित करती है। यह राज्य में एक जीवंत और गतिशील उद्यमी वातावरण बनाने में मदद करता है।
  • आय में वृद्धि: योजना से लाभान्वित होने वाले लोगों की आय में वृद्धि होती है। यह उन्हें अपनी जीवनशैली में सुधार करने और अपने परिवारों के लिए बेहतर जीवन स्तर प्रदान करने में मदद करता है।
  • महिला सशक्तिकरण: योजना महिलाओं को सशक्त बनाने में भी मदद करती है। योजना के तहत महिला उद्यमियों को विशेष रियायतें दी जाती हैं।
  • सामाजिक समावेश: योजना सामाजिक समावेश को बढ़ावा देती है और अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति और अन्य पिछड़ा वर्ग के लोगों को सशक्त बनाने में मदद करती है।

मुख्यमंत्री उद्यम क्रांति योजना के तहत कितनी अनुदान राशि दी जाती है

मुख्यमंत्री उद्यम क्रांति योजना में अनुदान राशि नहीं दी जाती है, बल्कि ब्याज अनुदान दिया जाता है। योजना के तहत, सरकार बैंकों द्वारा स्वीकृत ऋण पर 3% प्रति वर्ष की दर से ब्याज अनुदान प्रदान करती है। ऋण की राशि और ब्याज अनुदान की अवधि निम्नलिखित प्रकार है:

सेवा क्षेत्र: ऋण राशि 1 लाख रुपये से 25 लाख रुपये तक, इस अनुदान की अधिकतम अवधि 7 वर्ष है
विनिर्माण इकाई और उद्यम: ऋण राशि 1 लाख रुपये से 50 लाख तक, इस अनुदान की अधिकतम अवधि 7 वर्ष है

यह ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि ब्याज अनुदान केवल नए उद्यमों की स्थापना के लिए ही उपलब्ध है।

योजना से संबंधित अधिक जानकारी के लिए, आप मध्य प्रदेश सरकार की आधिकारिक वेबसाइट (Official Website) पर जा सकते हैं।

मुख्यमंत्री उद्यम क्रांति योजना के लिए पात्रता

इस योजना का लाभ सभी युवाओं को नहीं मिलेगा। इस योजना का लाभ उठाने के लिए, आपको कुछ निर्धारित पात्रता मानदंडों को पूरा करना होगा। तो, आइए इन मानदंडों को बारीकी से समझते हैं:

  1. मध्य प्रदेश का निवासी होना चाहिए।
  2. आवेदक की आयु 18 से 45 वर्ष के बीच होनी चाहिए।
  3. न्यूनतम 8वीं कक्षा उत्तीर्ण होना चाहिए।
  4. आवेदक का परिवार की वार्षिक आय 12 लाख रुपए या उससे कम होनी चाहिए।
  5. यदि आवेदक कर दाखिल करता है, तो पिछले 3 वर्षों की आय का विवरण देना होगा।
  6. आवेदक किसी भी बैंक या वित्तीय संस्था में जैसे MFI, NBFC, SFB, PACS आदि का डिफॉल्टर नहीं होना चाहिए।
  7. वर्तमान में राज्य या केंद्र सरकार की किसी अन्य स्वरोजगार योजना का लाभार्थी नहीं होना चाहिए।

मुख्यमंत्री उद्यम क्रांति योजना के लिए जरुरी दस्तावेज

अगर आप मुख्यमंत्री उद्यम क्रांति योजना की पात्रता को पूरा करते है तो इसका लाभ लेने के लिए आपको पहले आवेदन करना होगा जिसके लिए कुछ जरूरी दस्तावेजों (Important Document) की जरूरत पड़ती है जो इस प्रकार हैः

  1. योजना का निर्धारित आवेदन पत्र
  2. पासपोर्ट आकार का फोटो
  3. आधार कार्ड
  4. निवास प्रमाण पत्र
  5. जाति प्रमाण पत्र (यदि अनुसूचित जाति/जनजाति के लिए आवेदन कर रहे हैं)
  6. शिक्षा प्रमाण पत्र
  7. कौशल विकास प्रमाण पत्र (यदि कोई हो)
  8. व्यापार योजना
  9. आय प्रमाण पत्र (परिवार की वार्षिक आय)
  10. बैंक खाता विवरण
  11. अन्य प्रासंगिक दस्तावेज (यदि कोई हो)

नोट:

उपरोक्त सूची केवल सामान्य दिशानिर्देश के लिए है। आवश्यक दस्तावेजों की सटीक सूची आपके द्वारा आवेदन किए गए बैंक या वित्तीय संस्था के अनुसार भिन्न हो सकती है।
नवीनतम जानकारी के लिए, कृपया योजना की आधिकारिक वेबसाइट या आपके निकटतम बैंक/वित्तीय संस्था से संपर्क करें।

मुख्यमंत्री उद्यम क्रांति योजना के लिए आवेदन प्रक्रिया

अगर आप इस योजना का लाभ लेना चाहते है और आपके पास उपर बताए गए सभी दस्तावेद है तो आप मुख्यमंत्री उद्यम क्रांति योजना के लिए ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों तरह से आवेदन कर सकते है। पोस्ट के इस भाग में आपको दोनों तरीकों के बार में जानकारी दी जा रही है

मुख्यमंत्री उद्यम क्रांति योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन

1. पोर्टल पर पंजीकरण

  1. योजना के लिए आवेदन करने के लिए, आपको पहले https://samast.mponline.gov.in/ पर जाकर
  2. “मुख्यमंत्री उद्यम क्रांति योजना” के लिए पंजीकरण करना होगा।
  3. पंजीकरण के लिए, आपको अपना आधार कार्ड, मोबाइल नंबर और ईमेल पता प्रदान करना होगा।
  4. सफल पंजीकरण के बाद, आपको एक उपयोगकर्ता नाम और पासवर्ड मिलेगा।

2. आवेदन पत्र भरें

  1. लॉगिन करने के बाद, “ऑनलाइन सेवाएं” टैब पर क्लिक करें और “मुख्यमंत्री उद्यम क्रांति योजना” चुनें।
  2. आवेदन पत्र भरें, जिसमें सभी आवश्यक जानकारी शामिल हो, जैसे कि आपका नाम, पता, शिक्षा, अनुभव, व्यवसाय योजना, और वित्तीय विवरण।
  3. आवेदन पत्र भरते समय, आपको आवश्यक दस्तावेजों की स्कैन की हुई प्रतियां भी अपलोड करनी होंगी।
  4. आवेदन पत्र भरने और दस्तावेज अपलोड करने के बाद, आपको आवेदन शुल्क का भुगतान करना होगा।
  5. शुल्क का भुगतान ऑनलाइन क्रेडिट कार्ड, डेबिट कार्ड, या नेट बैंकिंग के माध्यम से किया जा सकता है।
  6. शुल्क भुगतान सफलतापूर्वक होने के बाद, आप अपना आवेदन पत्र जमा कर सकते हैं।
  7. जमा करने के बाद, आपको एक आवेदन संख्या मिलेगी।
  8. आप भविष्य के संदर्भ के लिए आवेदन संख्या का प्रिंट आउट ले सकते हैं।

Bal Jeevan Bima Yojana 2024| डेली 6 रुपये की बचत और पाएं 3,00,000 रुपये का रिटर्न

मुख्यमंत्री उद्यम क्रांति योजना के लिए ऑफलाइन आवेदन:

बैंक में जाकर

  • आप अपने नजदीकी बैंक शाखा से योजना का आवेदन पत्र प्राप्त कर सकते हैं।
  • आवश्यक जानकारी भरें और आवश्यक दस्तावेज संलग्न करें।
  • बैंक शाखा में जमा करें।

MP Laghu Udyog Nigam कार्यालय में जाकर

  • निकटतम MP Laghu Udyog Nigam कार्यालय में जाएं।
  • मुख्यमंत्री उद्यम क्रांति योजना आवेदन पत्र प्राप्त करें।
  • आवश्यक जानकारी दर्ज करें और आवश्यक दस्तावेज संलग्न करें।
  • आवेदन पत्र जमा करें।

आवेदन के बाद कैसे मिलेगा लोन

आपके आवेदन जमा करने के बाद जांच संबंधित अधिकारियों द्वारा आपके फार्म को चेक किया जाएगा।
यदि आपके आवेदन में कोई त्रुटि है, तो आपको इसे ठीक करने के लिए सूचित किया जाएगा।
यदि आपका आवेदन स्वीकृत हो जाता है, तो आपको बैंक ऋण के लिए अनुमोदन पत्र मिलेगा।
अनुमोदन पत्र के साथ, आप किसी भी अनुसूचित वाणिज्यिक बैंक में जा सकते हैं और ऋण के लिए आवेदन कर सकते हैं।
बैंक आपके आवेदन का मूल्यांकन करेगा और ऋण स्वीकृत करेगा।
ऋण स्वीकृत होने के बाद, आपको सरकार से 3% प्रति वर्ष की दर से ब्याज अनुदान प्राप्त होगा।
ब्याज अनुदान सीधे आपके बैंक खाते में जमा किया जाएगा।

मुख्यमंत्री उद्यम क्रांति योजना 2024 FAQ

Q: मुख्यमंत्री उद्यम क्रांति योजना 2024 क्या है?
A: मुख्यमंत्री उद्यम क्रांति योजना 2024 मध्यप्रदेश सरकार द्वारा शुरू की गई एक योजना है, जिसका उद्देश्य बेरोजगार युवाओं को स्वरोजगार के लिए प्रोत्साहित करना और उन्हें 1 लाख रुपए से 25 लाख रुपए तक का लोन उपलब्ध कराना है.

Q: इस योजना का उद्देश्य क्या है?
A: इस योजना का मुख्य उद्देश्य मध्यप्रदेश के पढ़े-लिखे युवाओं को स्वरोजगार के लिए प्रेरित करना है। इस योजना के माध्यम से ग्रामीण और शहरी युवाओं को स्वरोजगार प्रदान किया जाएगा.

Q: मुख्यमंत्री उद्यम क्रांति योजना 2024 के तहत कितनी आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी?
A: इस योजना के तहत बेरोजगार युवाओं को व्यवसाय शुरू करने के लिए 1 लाख रुपए से 25 लाख रुपए तक का लोन सरकार की तरफ से दिया जाएगा.

Q: मुख्यमंत्री उद्यम क्रांति योजना 2024 के लिए पात्रता क्या है?
A: इस योजना के लिए पात्रता की शर्तें हैं कि आवेदक मध्यप्रदेश का बेरोजगार नागरिक होना चाहिए और उसकी आयु 18 वर्ष से कम और 45 वर्ष से अधिक नहीं होनी चाहिए.

Q: मुख्यमंत्री उद्यम क्रांति योजना 2024 के लिए आवेदन कैसे करें?
A: इस योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन किया जा सकता है, जिसके लिए आवश्यक दस्तावेजों में आधार कार्ड, बैंक पासबुक की प्रति, निवास प्रमाण पत्र, राशन कार्ड, पहचान पत्र, मोबाइल नंबर और पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ शामिल हैं.

Q: मुख्यमंत्री उद्यम क्रांति योजना 2024 की आधिकारिक वेबसाइट क्या है?
A: इस योजना की आधिकारिक वेबसाइट जल्द ही लॉन्च की जाएगी

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now