आज का मौसम

Rajasthan Weather: राजस्थान में बदला मौसम, जयपुर समेत कई इलाकों में शुरू हुई झमाझम बारिश

×

Rajasthan Weather: राजस्थान में बदला मौसम, जयपुर समेत कई इलाकों में शुरू हुई झमाझम बारिश

Share this article

Rajasthan Weather 20 June 2024: राजस्थान में पिछले कुछ दिनों से प्री-मानसून वर्षा के आगमन ने किसानों के चेहरे पर मुस्कान ला दी है। मानसून की शुरुआत से पहले हुई इस वर्षा ने कृषि कार्यों को गति प्रदान की है। किसान खेतों की तैयारी में जुट गए हैं और आगामी फसलों की बुवाई के लिए उत्साहित हैं।

तापमान में गिरावट से मिली राहत

प्री-मानसून वर्षा ने ना केवल कृषि को लाभान्वित किया है, बल्कि भीषण गर्मी से परेशान लोगों को भी राहत प्रदान की है। पिछले सप्ताह तक, राजस्थान में तीव्र गर्मी का प्रकोप रहा था। चित्तौड़गढ़ जैसे शहरों में तापमान 45 डिग्री सेल्सियस के करीब पहुंच गया था।

प्री-मानसून वर्षा के बाद, तापमान में गिरावट आई है और अब यह 39 डिग्री सेल्सियस के आसपास है। लोगों ने बारिश का आनंद लिया और गर्मी से राहत पाने के लिए घरों की छतों पर नहा भी गए।

मौसम विभाग का पूर्वानुमान

मौसम विभाग के अनुसार, 24 जून से पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय होने के कारण राजस्थान के कई हिस्सों में बारिश होने की संभावना है। बीकानेर, जयपुर, भरतपुर और कोटा संभागों में मेघगर्जन के साथ तेज हवाएं चल सकती हैं। पूर्वी राजस्थान के उदयपुर और कोटा में भी 24 जून से बारिश होने का अनुमान है।

अगले 48 घंटों में तापमान में गिरावट

मौसम विभाग ने अगले 48 घंटों में तापमान में और गिरावट की संभावना जताई है। जयपुर में कुछ इलाकों में पहले ही बूंदाबांदी हो चुकी है, जिससे लोगों को गर्मी से राहत मिली है।

पिछले 24 घंटों में हुई बारिश

पिछले 24 घंटों में, राजस्थान के अलवर, बारां, भरतपुर, धौलपुर, झालावाड़, झुंझुनूं, करौली, कोटा, सवाई माधोपुर और सीकर सहित कई जिलों में बारिश हुई है। जयपुर और जोधपुर में भी गर्मी से परेशान लोगों को बारिश से कुछ राहत मिली।

चूरू, हनुमानगढ़ और श्रीगंगानगर में बारिश का अलर्ट

मौसम विभाग ने चूरू, हनुमानगढ़ और श्रीगंगानगर जिलों में मेघगर्जन के साथ तेज हवाओं के साथ बारिश होने की चेतावनी जारी की है। इन जिलों के लोगों को सतर्क रहने की सलाह दी गई है।

किसानों के लिए शुभ संकेत

प्री-मानसून वर्षा को किसानों के लिए शुभ संकेत माना जाता है। इससे मिट्टी में नमी बढ़ती है और फसलों के अच्छे अंकुरण और विकास में मदद मिलती है। किसान इस वर्षा से उत्साहित हैं और आगामी खरीफ फसल के लिए अच्छी पैदावार की उम्मीद कर रहे हैं।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now