आज का मौसममौसम पूर्वानुमान

UP Ka Mausam : उत्तर प्रदेश में प्रचंड गर्मी का जोर; इस दिन मानसून से राहत मिलेगी, चेक करें मौसम अपडेट

×

UP Ka Mausam : उत्तर प्रदेश में प्रचंड गर्मी का जोर; इस दिन मानसून से राहत मिलेगी, चेक करें मौसम अपडेट

Share this article

UP Ka Mausam : उत्तर प्रदेश में भीषण गर्मी से लोग बेहाल है, उत्तर प्रदेश में इस साल गर्मी का प्रकोप अत्यंत विकराल रहा है। राज्य के कई जिलों में तापमान 45 डिग्री सेल्सियस से अधिक हो गया है, जिसमें पूर्वी प्रयागराज में तापमान 47 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया है। वाराणसी, बहराइच, हमीरपुर, बुलंदशहर, लखनऊ, हरदोई और बरेली जैसे शहरों में भी तापमान 44 से 46 डिग्री सेल्सियस के बीच रहा है। इस भीषण गर्मी के कारण लोगों का जीवन त्रस्त हो गया है।

गर्मी का कारण

यह लंबे समय से जारी हीट वेव इंडो-गैंगेटिक मैदानों, विशेष रूप से उत्तर प्रदेश में, हाल के वर्षों में देखी गई सबसे गंभीर हीट वेव में से एक रही है। इस लगातार गर्मी के पीछे का कारण लगातार शुष्क मौसम, साफ आसमान और गर्म, शुष्क पश्चिमी हवाएं हैं। ये हवाएं सिंध, बलूचिस्तान और थार रेगिस्तान के शुष्क क्षेत्रों से आती हैं, जिससे गर्मी और बढ़ जाती है।

18 जून के बाद बदलेगा मौसम

हालांकि, अब राहत की उम्मीद है। 18 जून से मौसम में बदलाव की संभावना है। पूर्वी उत्तर प्रदेश और बिहार के आस-पास के क्षेत्रों में एक चक्रवाती परिसंचरण बनने की उम्मीद है। इसके अलावा इस परिसंचरण से उत्तराखंड की ओर एक ट्रफ बढ़ेगा, जो उत्तर प्रदेश के तराई क्षेत्रों को प्रभावित करेगा।

इससे आर्द्रता में वृद्धि होगी, जिससे मानसून के धीरे-धीरे आने का मार्ग बनेगा। मानसून पहले पूर्वोत्तर उत्तर प्रदेश में पहुंचेगा और फिर 20 या 21 जून तक उत्तर पश्चिमी भागों की ओर बढ़ेगा।

बारिश देगी गर्मी से राहत

भीषण गर्मी से राहत बारिश के रूप में आएगी। 18 जून से पूर्वी उत्तर प्रदेश में बारिश की गतिविधियां तेज होने की उम्मीद है। 20 जून तक राज्य के मध्य भागों में भी छिटपुट बारिश होने की संभावना है।

ये बहुप्रतीक्षित मानसूनी बारिश न केवल भीषण गर्मी से राहत लाएगी, बल्कि उत्तर प्रदेश में जल स्थिति में भी काफी सुधार करेगी। राज्य के सूखे क्षेत्रों को अंततः अच्छी बारिश मिलेगी, जिससे मिट्टी की नमी बढ़ेगी और जल की कमी पूरी होगी।

किसानों के लिए राहत

मानसून की बारिश न केवल लोगों को गर्मी से राहत देगी, बल्कि किसानों के लिए भी फायदेमंद होगी। खरीफ की फसलों, जैसे धान, मक्का, दलहन और तिलहन के लिए बारिश आवश्यक है। समय पर और पर्याप्त बारिश होने से किसानों को अच्छी पैदावार मिलने की उम्मीद है।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now